कारोबार ताजा समाचार दिल्ली दुनिया देश

ईपीएफओ कर्मचारियों को बड़ी राहत, अब परिवार वालों को मिलेगा दोगुना पैसा

कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन ने कर्मचारियों और उनके आश्रितों को राहत देने वाला फैसला किया है। दरअसल, सेंट्रल बोर्ड ने ईपीएफओ कर्मियों के आकस्मिक निधन पर परिजनों को दी जाने वाली एक्‍स-ग्रेसिया डेथ रिलीफ फंड की रकम दोगुनी कर दी है। इससे देशभर में संगठन के 30 हजार कर्मचारियों को फायदा मिलेगा। फंड में की गई इस बढ़ोतरी को तत्‍काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है। ईपीएफओ ने इसके लिए सभी कार्यालयों को सर्कुलर भी जारी कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ईपीएफओ की ओर से जारी सर्कुलर के मुताबिक, अगर किसी कर्मचारी की नॉन-कोविड मौत यानि प्राकृतिक मौत होती है तो उसके परिवार को 8 लाख रुपये मिलेंगे। यह रकम बोर्ड के हर कर्मचारी के लिए एकसमान है। इस रकम के लिए वेल्‍फेयर फंड से इंतजाम किया गया है। यह रकम सेंट्रल प्रॉविडेंट फंड कमिश्‍नर, सेंट्रल स्‍टाफ वेल्‍फेयर कमेटी और एम्‍प्‍लॉईज प्रॉविडेंट फंड से मंजूरी लेकर बढ़ाई गई है। अगर सेंट्रल बोर्ड के किसी कर्मचारी की मौत कोरोना वायरस के कारण हुई है तो 28 अप्रैल 2020 का आदेश माना जाएगा।

सर्कुलर में स्‍पष्‍ट किया गया है कि इसमें कारोना वायरस से होने वाली मौत को शामिल नहीं किया गया है। साथ ही बताया है कि ईपीएफओ कर्मचारी की आकस्मिक मौत पर अब आश्रितों को 8 लाख रुपये मिलेंगे। इस फंड के तहत 2006 में सिर्फ 5000 रुपये ही आश्रित को दिए जाते थे। इसके बाद इसे 50 हजार से 4.20 लाख रुपये तक किया गया। अब यह भी तय हुआ है कि हर तीन साल में इसमें 10 फीसदी बढ़ोतरी की कोशिश की जाएगी। बता दें कि सदस्यों ने आकस्मिक निधन पर कम से कम 10 और अधिकतम 20 लाख रुपये की मांग की थी।

हाल ही में केंद्र सरकार ने 6.5 करोड़ लोगों के खातों में पीएफ  का ब्याज ट्रांसफर कर दिया। आपके पीएफ खाते में भी आ चुका होगा, अगर अभी तक आपको एसएमएस नहीं आया है तो आप घर बैठे आसानी से चेक कर सकते हैं। पिछले कुछ महीनों से लोग खाताधारक पीएफ पर मिलने वाले ब्याज का इंतजार कर रहे थे। ईपीएफओ ने इस बार पीएफ अमाउंट पर  8.5 फीसद ब्‍याज दिया है। आप खुद घर बैठे चेक कर सकते हैं कि आपको ब्याज में कितनी रकम मिली है। आप केवल पीएफ खाते के साथ लिंक रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की मदद पीएफ ब्याज पता कर सकते हैं।

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: