ताजा समाचार बिहार

Bihar News: डर से घर में बंद हैं जिला परिषद सदस्य मुन्ना किन्नर, CM- DGP तक लगा चुके सुरक्षा की गुहार, जानें वजह

डर के साये में जी रहे गोपालगंज से जिला परिषद सदस्य मुन्ना किन्नर उर्फ रामदर्शन प्रसाद.

डर के साये में जी रहे गोपालगंज से जिला परिषद सदस्य मुन्ना किन्नर उर्फ रामदर्शन प्रसाद.

Gopalganj News: मुन्ना किन्नर का कहना है कि धमकी के बाद वे डर के साए में हैं और अपने घर में डरे -सहमे छिपे हुए हैं. मुन्ना ने बताया कि सभी सक्षम व्यक्तियों के पास पत्र लिखकर सुरक्षा की गुहार लगा रहे हैं.

गोपालगंज. जिले का एकमात्र किन्नर जनप्रतिनिधि रामदर्शन प्रसाद उर्फ मुन्ना किन्नर डर के साए में जी रहे हैं और उन्होंने खुद को  अपने घर में कई दिनों से बंद कर रखा है. जिला परिषद सदस्य मुन्ना किन्नर के मुताबिक उन्हें जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं जिसकी वजह से वे घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं.  उन्होंने सीएम नीतीश कुमार से लेकर डीजीपी एसके सिंघल, डीआईजी मनु महाराज और जिले के डीएम एवं एसपी तक को पत्र भेजकर अपनी जान की सुरक्षा की गुहार लगाई है.

बता दें कि मुन्ना किन्नर उर्फ राम दर्शन प्रसाद मीरगंज के क्षेत्र संख्या 16 से जिला परिषद सदस्य हैं. वे दो बार विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुके हैं. उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के दौरान कुछ किन्नर के आड़ में नाच-गान करनेवाले लोगों के द्वारा जिले में जगह-जगह पर हंगामा और प्रदर्शन किया गया था. जिसका मुन्ना किन्नर ने विरोध किया था. जगह-जगह हंगामा करने वालों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया था. मुन्ना किन्नर ने बताया कि उन्हें अब उन्ही नाच गाना करने लोगो और जिले के आर्केस्ट्रा संचालकों के द्वारा जान से मारने की धमकी दी जा रही है.

दरअसल गोपालगंज में किन्नरों के द्वारा जगह-जगह हंगामा के बाद जिले के बरौली थाना, नगर थाना और बैकुंठपुर थाना में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. एफआईआर के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस द्वारा छापेमारी भी की गई थी. इसी छापेमारी के विरोध में नाच-गाना करने वाले किन्नरों ने मुन्ना किन्नर को फोन कर जान से मारने की धमकी दी है. मुन्ना किन्नर का कहना है कि आरोपियों को लगता है कि उन्होंने ही जिला प्रशासन से मिलकर उनके खिलाफ एफआईआर कराया गया है. इसी की वजह से ओर्केस्ट्रा संचालकों और हंगामा करने वालों के द्वारा उन्हें धमकी दी जा रही है.

मुन्ना किन्नर का कहना है कि धमकी के बाद वे डर के साए में हैं और अपने घर में डरे -सहमे छिपे हुए हैं.  मुन्ना ने बताया कि सभी सक्षम व्यक्तियों के पास पत्र लिखकर सुरक्षा की गुहार लगा रहे हैं. मुन्ना किन्नर ने कहा कि गोपालगंज जिले में सिर्फ 12 परिवार किन्नर सनुदाय से हैं. उनके अलावा जो लोग भी हैं वे किन्नर के नाम पर नाच-गान करते हैं, लेकिन वे किन्नर नहीं बल्कि आदमी हैं.





Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: