ताजा समाचार बिहार

बिहार: रामविलास पासवान की कर्मभूमि पर चाचा और भतीजे में पोस्टर वार, चिराग आज से शुरू करेंगे आशीर्वाद यात्रा

अमर उजाला ब्यूरो, पटना
Published by: देव कश्यप
Updated Mon, 05 Jul 2021 03:55 AM IST

लोजपा में दो फाड़
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

रामविलास पासवान की कर्मभूमि पर चिराग पासवान और पशुपति कुमार पारस के बीच पोस्टर वार शुरू हो गया है। लोजपा में दो गुट बनने के बाद आज दिवंगत रामविलास पासवान की जयंती के अवसर पर चाचा और भतीजे शक्ति प्रदर्शन करने को तैयार हैं। घर का घमासान अब खुलकर सड़कों पर आ गया है।

रामविलास पासवान की जयंती के मौके पर आशीर्वाद यात्रा
लोजपा सांसद चिराग पासवान सोमवार को रामविलास पासवान की जयंती के मौके पर आशीर्वाद यात्रा निकाल रहे हैं। इस दौरान वह देखना चाहते हैं कि रामविलास पासवान का जनाधार उनके साथ रहेगा या पारस के साथ। पोस्टर के जरिये चाचा-भतीजे आमने-सामने हैं। इस मौके पर राजधानी पटना और हाजीपुर में पोस्टर लगाए गए हैं। पारस गुट के पोस्टर में जहां चिराग की तस्वीर नहीं है, वहीं चिराग गुट के पोस्टर से पारस की तस्वीर गायब है।

पोस्टर के जरिए चाचा-भतीजे आमने सामने हैं। चिराग पासवान ने ट्विटर पर लिखा, ‘उठो, जागो और तब तक मत रुको, जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाए। संपूर्ण मानवता को भारतीय आध्यात्म और वेदांत दर्शन का संदेश देने वाले, अनंत ज्ञान व ऊर्जा के पर्याय स्वामी विवेकानंद की पुण्यतिथि पर उन्हें मेरा श्रद्धापूर्वक नमन। आपके विचार सदैव हम सभी का मार्गदर्शन करते रहेंगे।’ 
 

चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पार्टी के प्रदेश कार्यालय को रामविलास पासवान के नाम पर संग्रहालय बनाने और उनकी आदमकद प्रतिमा स्थापित करने की मांग की है। हाजीपुर से लोजपा सांसद ने इस संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जल्द ही पत्र भी लिखने की बात कही है।

विस्तार

रामविलास पासवान की कर्मभूमि पर चिराग पासवान और पशुपति कुमार पारस के बीच पोस्टर वार शुरू हो गया है। लोजपा में दो गुट बनने के बाद आज दिवंगत रामविलास पासवान की जयंती के अवसर पर चाचा और भतीजे शक्ति प्रदर्शन करने को तैयार हैं। घर का घमासान अब खुलकर सड़कों पर आ गया है।

रामविलास पासवान की जयंती के मौके पर आशीर्वाद यात्रा

लोजपा सांसद चिराग पासवान सोमवार को रामविलास पासवान की जयंती के मौके पर आशीर्वाद यात्रा निकाल रहे हैं। इस दौरान वह देखना चाहते हैं कि रामविलास पासवान का जनाधार उनके साथ रहेगा या पारस के साथ। पोस्टर के जरिये चाचा-भतीजे आमने-सामने हैं। इस मौके पर राजधानी पटना और हाजीपुर में पोस्टर लगाए गए हैं। पारस गुट के पोस्टर में जहां चिराग की तस्वीर नहीं है, वहीं चिराग गुट के पोस्टर से पारस की तस्वीर गायब है।

पोस्टर के जरिए चाचा-भतीजे आमने सामने हैं। चिराग पासवान ने ट्विटर पर लिखा, ‘उठो, जागो और तब तक मत रुको, जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाए। संपूर्ण मानवता को भारतीय आध्यात्म और वेदांत दर्शन का संदेश देने वाले, अनंत ज्ञान व ऊर्जा के पर्याय स्वामी विवेकानंद की पुण्यतिथि पर उन्हें मेरा श्रद्धापूर्वक नमन। आपके विचार सदैव हम सभी का मार्गदर्शन करते रहेंगे।’ 

 

चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पार्टी के प्रदेश कार्यालय को रामविलास पासवान के नाम पर संग्रहालय बनाने और उनकी आदमकद प्रतिमा स्थापित करने की मांग की है। हाजीपुर से लोजपा सांसद ने इस संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जल्द ही पत्र भी लिखने की बात कही है।

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply