.wpmm-hide-mobile-menu{display:none}
ताजा समाचार बिहार

आरा व्यवसायी हत्याकांड में खुर्शीद कुरैशी समेत 10 को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

आरा व्यवसायी हत्याकांड में खुर्शीद कुरैशी समेत 10 को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

आरा व्यवसायी हत्याकांड में खुर्शीद कुरैशी समेत 10 को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

Ara News: 6 दिसंबर 2018 को आरा के टाउन थाना क्षेत्र के चित्रटोली रोड स्थित धर्मंन चौक पर बैग व्‍यवसायी इमरान को उनके दुकान में ही हत्‍या कर दी गई थी.

आरा. आरा सिविल कोर्ट ने चर्चित बैग व्यवसायी इमरान हत्याकांड के 10 आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई है. कोर्ट ने दोषियों पर 1 लाख रुपए का आर्थिक दंड भी लगाया है. आरा के एडीजे 9 मनोज कुमार की कोर्ट ने वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये यह सजा सुनाई है. लगभग तीन साल पहले 6 दिसंबर 2018 को आरा के टाउन थाना क्षेत्र के चित्रटोली रोड स्थित धर्मंन चौक पर दिनदहाड़े खुर्शीद कुरैशी और उनके गुर्गों ने अपनी दुकान पर बैठे बैग व्यवसायी इमरान की ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या कर दी थी. 10 लाख रुपए रंगदारी की मांग को लेकर हुई इस सनसनीखेज हत्या के दौरान इमरान के भाई वकील मियां और दुकान के पास काम कर रहे एक बीएसएनएल कर्मचारी भी गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

बताया जाता है कि खुर्शीद ने काफी नजदीक से इमरान को गोलियां मारी थीं. शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके धर्मन चौक पर बैग और बेल्ट कारोबारी इमरान की हत्या के बाद मौके पर अफरातफरी मच गई थी. दिनदहाड़े हुई इस हत्या से पूरा शहर कांप उठा था. इस हत्‍याकांड के बाद जबरदस्त बवाल भी मचा था. इस सनसनीखेज हत्याकांड के बाद हत्याओं का एक दौर चला और बदले की कार्रवाई में खुर्शीद कुरैशी के छोटे भाई सोनू कुरैशी की दिनदहाड़े टाउन थाना इलाके के भलुहीपुर के पास गोली मारकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी.

एक बार फिर खुर्शीद गैंग के लोगों ने बैग व्यवसाई इमरान के घर टाउन थाना इलाके के दूध कटोरा में घुसकर इमरान की बहन शबनम तारा की गोली मारकर हत्या कर दी थी. हत्याओं के इस दौर के बाद पुलिस को खुर्शीद कुरैशी को गिरफ्तार करने में खासी मशक्कत करनी पड़ी थी. तकरीबन ढाई साल से भी अधिक वक्त बीतने बाद इस सनसनीखेज हत्याकांड में आरा की एडीजे 9 की कोर्ट ने वीसी के जरिए हत्या के मुख्य आरोपी खुर्शीद कुरैशी और उसके भाई अब्दुल्लाह कुरैशी सहित सभी 10 आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई है. केस की सुनवाई के दौरान वीसी से सभी अभियुक्तों की पेशी हुई. इस दौरान बचाव पक्ष के वकील भुवनेश्वर तिवारी, अमित कुमार गुप्ता, शिवजी सिंह और सरकारी वकील नागेंद्र सिंह उपस्थित थे.





Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: