ताजा समाचार दुनिया

अमेरिका चुनाव 2020: उपराष्ट्रपति पद की डिबेट में कमला हैरिस बोलीं- कोरोना से निपटने में विफल रही ट्रंप सरकार

अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों से पहले आज उपराष्ट्रपति पद के लिए खड़े उम्मीदवारों के बीच डिबेट हो चुकी है। डिबेट में रिपब्लिकन पार्टी की ओर से माइक पेंस और डेमोक्रेटिक की तरफ से कमला हैरिस आमने-सामने थे। डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस ने इस दौरान राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति पर जमकर हमला बोला। इस डिबेट की शुरुआत में कमला हैरिस ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के टैक्स बिलों को लेकर हमला बोला है।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को इस महामारी की प्रकृति के बारे में सूचित किया गया था कि यह बहुत ही घातक है। इसके बावजूद आज भी उनके पास इससे निपटने के लिए कोई कार्ययोजना नहीं है। जबकि जो बिडेन के पास योजना है।

कमला हैरिस ने ट्रंप पर हमला बोलते हुए कहा कि डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमलै हैरिस ने ट्रंप प्रशासन को  को अमेरिका के इतिहास में किसी भी राष्ट्रपति प्रशासन की सबसे बड़ी विफलता के रूप में कोरोना महामारी से निपटने के रूप में वर्णित किया। उन्होंने उपराष्ट्रपति माइक पेंस पर एक तेज हमले के साथ उपराष्ट्रपति पद की की बहस की शुरुआत की।

कैलिफोर्निया की 55 वर्षीय सीनेटर कमला हैरिस ने कहा कि अमेरिकियों ने इस प्रशासन की अक्षमता के कारण बहुत बलिदान किया है उन्होंने कोरोना महामारी का जिक्र किया जिससे 2 लाख लोगों की अमेरिका में मौत हो चुकी है और इसने देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया है।

इस बहस के दौरान माइक पेंस उनसे 12 फीट दूर बैठे। वहीं पेंस ने ट्रंप प्रशासन की कोविड-19 प्रतिक्रिया का बचाव किया और कहा कि महामारी के शुरुआती दिनों में राष्ट्रपति के कदमों ने लोगों की जानें बचाई हैं। उपराष्ट्रपति पेंस ने कहा कि जब आप कहते हैं कि पिछले आठ महीनों में अमेरिकी लोगों ने जो काम किया है, उसका कोई फायदा नहीं हुआ, तो यह अमेरिकी लोगों द्वारा किए गए बलिदानों के प्रति असंतोष है।

रिपब्लिकन पार्टी के उप राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार माइक पेंस ने कहा कि अमेरिका ने उन देशों की तुलना में सीओ 2 को कम कर दिया है जो अभी भी पेरिस जलवायु समझौते में हैं। हमने इसे नवाचार और प्राकृतिक गैस के माध्यम से किया है। बिडेन और हैरिस हमें वापस पेरिस जलवायु समझौते में डाल देंगे, वे नई हरी डील लगाएंगे जो अमेरिकी ऊर्जा को कुचल देगी।

Related Posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: