ताजा समाचार बिहार

लापरवाही: युवती ने टीका लगवाया नहीं, सर्टिफिकेट जारी, दो दिन पहले युवक को बिना दवा की लगा दी थी सुई

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, छपरा
Published by: Tanuja Yadav
Updated Sat, 26 Jun 2021 02:42 PM IST

सार

छपरा से वैक्सीनेशन को लेकर एक और लापरवाही का मामला सामने आया है। यहां एक महिला को बिना वैक्सीन लगाए ही वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट जारी कर दिया। हालांकि चिकित्सा अधिकारी ने इसे मानवीय भूल बताया है।

बिना वैक्सीने लगवाए जारी किया सर्टिफिकेट
– फोटो : social media

ख़बर सुनें

देश में 21 जून के बाद से वैक्सीनेशन अभियान ने रफ्तार पकड़ ली है लेकिन वैक्सीनेशन अभियान को लेकर एक-दो जगह पर लापरवाही और धोखाधड़ी की खबरें सामने आई हैं। वहीं बिहार के छपरा में एक बार फिर लापरवाही का बड़ा मामला सामने आया है। मामला यह है कि यहां युवती को बिना वैक्सीन लगाए सर्टिफिकेट दे दिया। 

बता दें कि दो दिन पहले ही छपरा से एक मामला सामने आया था, जहां बिना दवा के ही शख्स को सीरींज लगा दी। इसके बाद नर्स पर कार्रवाई की गई। हालांकि ये नया मामला सीएचसी एकमा से सामने आया है। यहां युवती को वैक्सीन तो लगी नहीं लेकिन उसके मोबाइल पर वैक्सीन लेने का मेैसेज आ गया और साथ में सर्टिफिकेट भी जारी  कर दिया गया। 

रसूलपुर थाना क्षेत्र के असहनी गांव की 34 वर्षीय कल्पना द्विवेदी ने 23 जून को वैक्सीनेशन के लिए अपना स्लॉट बुक कराया था। हालांकि किसी कारणवश कल्पना टीकाकरण केंद्र पर नहीं पहुंच पाई लेकिन लापरवाही के चलते दो दिन बाद यानी 25 जून को ही उनके मोबाइल पर वैक्सीन लेने का मैसेज आ गया और साथ ही वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट भी जारी कर दिया गया। 

चिकित्सा अधिकारी ने बताई मानवीय भूल 
मामले को संज्ञान में लेकर सीएचसी एकमा के चिकित्सा पदाधिकारी अमित कुमार तिवारी ने कहा कि इस तरह की घटना चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि स्थानीय स्तर पर डाटा ऑपरेटर की गलती की वजह से ऐसा हुआ है। हालांकि उन्होंने आगे कहा कि महिला को वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि काम के प्रेशर की वजह से डाटा ऑपरेटन की ओर से ये मानवीय भूल हो गई लेकिन आगे से ऐसा ना हो, इस बात का ध्यान रखा जाएगा। 

21 जून को एक शख्स के लगा दी खाली सीरींज
हाल ही में एक नर्स ने कोरोना की वैक्सीन ना होने पर एक शख्स को खाली सीरींज लगा दी। यह मामला भी छपरा का है। ये मामला सामने तब आया, जब दोस्त ने वैक्सीने लेते समय शख्स की वीडियो बना ली थी।

विस्तार

देश में 21 जून के बाद से वैक्सीनेशन अभियान ने रफ्तार पकड़ ली है लेकिन वैक्सीनेशन अभियान को लेकर एक-दो जगह पर लापरवाही और धोखाधड़ी की खबरें सामने आई हैं। वहीं बिहार के छपरा में एक बार फिर लापरवाही का बड़ा मामला सामने आया है। मामला यह है कि यहां युवती को बिना वैक्सीन लगाए सर्टिफिकेट दे दिया। 

बता दें कि दो दिन पहले ही छपरा से एक मामला सामने आया था, जहां बिना दवा के ही शख्स को सीरींज लगा दी। इसके बाद नर्स पर कार्रवाई की गई। हालांकि ये नया मामला सीएचसी एकमा से सामने आया है। यहां युवती को वैक्सीन तो लगी नहीं लेकिन उसके मोबाइल पर वैक्सीन लेने का मेैसेज आ गया और साथ में सर्टिफिकेट भी जारी  कर दिया गया। 

रसूलपुर थाना क्षेत्र के असहनी गांव की 34 वर्षीय कल्पना द्विवेदी ने 23 जून को वैक्सीनेशन के लिए अपना स्लॉट बुक कराया था। हालांकि किसी कारणवश कल्पना टीकाकरण केंद्र पर नहीं पहुंच पाई लेकिन लापरवाही के चलते दो दिन बाद यानी 25 जून को ही उनके मोबाइल पर वैक्सीन लेने का मैसेज आ गया और साथ ही वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट भी जारी कर दिया गया। 

चिकित्सा अधिकारी ने बताई मानवीय भूल 

मामले को संज्ञान में लेकर सीएचसी एकमा के चिकित्सा पदाधिकारी अमित कुमार तिवारी ने कहा कि इस तरह की घटना चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि स्थानीय स्तर पर डाटा ऑपरेटर की गलती की वजह से ऐसा हुआ है। हालांकि उन्होंने आगे कहा कि महिला को वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि काम के प्रेशर की वजह से डाटा ऑपरेटन की ओर से ये मानवीय भूल हो गई लेकिन आगे से ऐसा ना हो, इस बात का ध्यान रखा जाएगा। 

21 जून को एक शख्स के लगा दी खाली सीरींज

हाल ही में एक नर्स ने कोरोना की वैक्सीन ना होने पर एक शख्स को खाली सीरींज लगा दी। यह मामला भी छपरा का है। ये मामला सामने तब आया, जब दोस्त ने वैक्सीने लेते समय शख्स की वीडियो बना ली थी।

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply