ताजा समाचार बिहार

नीतीश कुमार ने साध लिया लव-कुश समीकरण? JDU की बैठक में कुशवाहा और RCP की मिटी दूरी!

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले आर.सी.पी सिंह (RCP Singh) पर भरोसा जताते हुए कहा कि वो अपने अनुभव से अच्छा काम करेंगे. जेडीयू (JDU) के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने यह विश्वास जताया. दरअसल पिछले कुछ दिनों से मीडिया में लगातार खबर आ रही थी कि आर.सी.पी सिंह के केंद्र में मंत्री बनने के बाद जेडीयू के अंदरखाने गुटबाजी तेज है. लेकिन अब नीतीश कुमार ने रविवार को यह बयान देकर इन कयासों को खत्म करने का प्रयास किया है.

जेडीयू के नवनियुक्त प्रदेश पदाधिकारियों के साथ जूम मीटिंग करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने सरकारी आवास एक अणे मार्ग से जुड़े हुए थे. जबकि आर.सी.पी सिंह दिल्ली से इस मीटिंग में शामिल थे. वहीं, पटना स्थित पार्टी दफ्तर में नवनिर्वाचित प्रदेश पदाधिकारियों के साथ-साथ वशिष्ठ नारायण सिंह, विजय चौधरी, अशोक चौधरी, उमेश कुशवाहा और पहली बार जेडीयू के किसी बड़े बैठक में उपेंद्र कुशवाहा भी शामिल हुए थे. नीतीश कुमार ने आर.सी.पी सिंह को केंद्र में मंत्री बनने पर बधाई दी और उनकी क्षमता पर भरोसा जताया. वहीं, दूसरी तरफ उन्होंने उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) की भी जमकर तारीफ कर अपने लव-कुश समीकरण को एकजुट करने की कोशिश की.

उपेंद्र कुशवाहा और आरसीपी सिंह के बीच अंदरुनी खींचतान पर विराम लगाने की कोशिश

बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई. लेकिन पार्टी के अंदरखाने उपेंद्र कुशवाहा के शामिल होने के बाद से लेकर आर.सी.पी सिंह के केंद्र में मंत्री बनने के बाद अंदरूनी खींचतान की जो खबरें आ रही थी उस पर विराम लगाने के लिए भी बैठक में पूरी मेहनत की गई थी. बैठक की शुरुआत करते हुए उपेन्द्र कुशवाहा ने अपने संबोधन में आर.सी.पी सिंह से अपने बेहतर संबंधों का हवाला दिया. ऐसा कर उन्होंने उन कयासों का अंत करने का प्रयास किया जो उन दोनों को लेकर लगाई जा रही है.

कुशवाहा ने कहा कि मेरे और आर.सी.पी बाबू को लेकर मीडिया में क्या-क्या चलता रहता है, इसलिए इस भुलावे में मत रहिएगा. हम दोनों के बीच काफी बेहतर संबंध हैं और हमारी न सिर्फ बातचीत होती है बल्कि मुलाकात भी हुई है. यह बात हम राष्ट्रीय अध्यक्ष के सामने बोल रहे हैं. उन्होंने कहा कि हम तो नीतीश कुमार के एक मजबूत सिपाही हैं, और मेरा एक ही सपना है जेडीयू को बिहार की नंबर वन पार्टी बनाना. इसके लिए हम लगातार बिहार के तमाम जिलों में घूम रहे हैं. फिलहाल पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच थोड़ी सुस्ती है लेकिन वो दूर हो जाएगी.

वहीं, बैठक में जब आर.सी.पी सिंह की बोलने की बारी आई तो उन्होंने भी अपने और उपेंद्र कुशवाहा के बीच बेहतर संबंधों का हवाला दिया. उन्होंने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा की साफगोई से कही गई बातें मुझे पसंद आयी. इस दौरान वो नीतीश कुमार के प्रति अपनी निष्ठा जताने से भी पीछे नहीं रहे. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश से अपने लंबे और मधुर रिश्तों का हवाला दिया और पार्टी के लिए मंत्री रहते हुए भी काम करने की बात कही.

लव-कुश समीकरण के दो बड़े नेताओं को साधने की पूरी कोशिश की

नीतीश कुमार ने अपने लव-कुश समीकरण के दो बड़े नेताओं को साधने की पूरी कोशिश की. उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत आर.सी.पी सिंह को केंद्र में मंत्री बनने की बधाई देकर किया. उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि वो केंद्र सरकार में बेहतर काम करेंगे. बाद में नीतीश ने उपेंद्र कुशवाहा की तारीफों के पुल बांधे और कहा कि उपेंद्र कुशवाहा पहले साथ थे फिर अलग हुए फिर साथ आए. आज पहली बार मीटिंग में आए हैं, बहुत अच्छा लगा. सारी बातें उपेंद्र कुशवाहा ने साफ-साफ कही. वो जिला-जिला घूम रहे हैं. देख कर बहुत अच्छा लग रहा है. उपेन्द्र कुशवाहा और आर.सी.पी सिंह ने ठीक कहा है कि कोई कन्फ्यूजन नहीं है, सब मिल कर ठीक काम करेंगे. उपेंद्र कुशवाहा का जो सपना है कि जेडीयू बिहार की नंबर वन पार्टी बनेगी. उनका सपना जरूर पूरा होगा.

इस दौरान नीतीश कुमार ने पार्टी के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि आप लोग भी उपेन्द्र कुशवाहा की तरह जनता के बीच जाइए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: