ताजा समाचार बिहार

अब बिहार में JDU नेता ने मोदी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, बोले- नीतीश को PM देखना चाहता है देश

PM नरेंद्र मोदी के खिलाफ बयान देने वाले जेडीयू के पूर्व विधायक महेश्वर यादव

Muzaffarpur News: पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार के खिलाफ बयान देने वाले महेश्वर यादव पिछले टर्म में मुजफ्फरपुर के गायघाट से राजद के विधायक थे. राजद विधायक रहते हुए महेश्वर यादव नीतीश कुमार के कहने पर जदयू में शामिल हो गए.

मुजफ्फरपुर. बिहार में बीजेपी से निष्कासित किए गए एमएलसी टुन्ना पांडेय द्वारा सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को लेकर दिये गये बयान से गरमाई राजनीति अभी ठंडी भी नहीं हुई थी कि जदयू नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी पूर्व विधायक महेश्वर यादव (JDU Leader Maheshwar Yadav) ने केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. संपूर्ण क्रांति दिवस के बहाने महेश्वर यादव ने कहा कि नीतीश कुमार देश के प्रधानमंत्री (PM) बनें तो जयप्रकाश नारायण का व्यवस्था परिवर्तन का सपना पूरा हो जाएगा.

इस दौरान यादव ने केंद्र की भाजपा सरकार पर तीखा हमला किया. उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुओं की महंगाई से देश की जनता परेशान है और बीजेपी सरकार से बहुत नाराज है. कोरोना काल में केंद्र की बीजेपी सरकार अच्छा काम नहीं कर पाई है, इसलिए देश की जनता नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहती है. जब उनसे पूछा गया कि वो बीजेपी पर तीखा वार कर रहे हैं, तो महेश्वर यादव ने कहा कि बीजेपी और जदयू का गठबंधन केवल बिहार में है, केंद्र सरकार में कोई गठबंधन नहीं है इसलिए नीतीश कुमार केंद्र में जदयू की सरकार बनाने और प्रधानमंत्री बनने के लिए स्वतंत्र हैं.

महेश्वर यादव के इस बयान से बिहार में सियासी हलचल के संकेत मिल रहे हैं. पिछले दिनों बीजेपी एमएलसी टुन्ना जी पांडे के नीतीश कुमार के खिलाफ बयानबाजी के बाद जदयू नेता का बीजेपी पर हमला महत्वपूर्ण पॉलीटिकल डेवलपमेंट है. महेश्वर यादव के मुजफ्फरपुर स्थित आवास पर संपूर्ण क्रांति दिवस का आयोजन किया गया था, जिसमें जदयू नेताओं ने लोकनायक जयप्रकाश नारायण को श्रद्धांजलि दी. इसी के दौरान महेश्वर यादव ने नीतीश के पक्ष में प्रधानमंत्री और मोदी सरकार पर तीखा हमला किया.

महेश्वर यादव राजद के कद्दावर नेता थे. पिछले टर्म में मुजफ्फरपुर के गायघाट से राजद से विधायक रहते हुए महेश्वर यादव नीतीश कुमार के कहने पर जदयू में शामिल हो गए. नीतीश कुमार ने काफी खींचतान के बीच महेश्वर यादव को गायघाट से जदयू का टिकट भी दिया था लेकिन वो राजद के निरंजन राय से हार गए. लोग मानते हैं कि महेश्वर यादव और नीतीश कुमार के बीच बहुत आत्मीय संबंध हैं, ऐसे में महेश्वर यादव के इस बयान के राजनीतिक मायने और भी बढ़ जाते हैं.





Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: