ताजा समाचार बिहार

बिहार: शहाबुद्दीन की राजनीतिक विरासत संभालेंगे ओसामा शहाब! राजद से नाराजगी के बाद अन्य दलों से मिला न्यौता

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सिवान
Published by: देव कश्यप
Updated Fri, 11 Jun 2021 01:12 AM IST

मोहम्मद शहाबुद्दीन और उनकी पत्नी हिना शहाब
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

राजद के बाहुबली नेता और सिवान संसदीय क्षेत्र से सांसद रह चुके मोहम्मद शहाबुद्दीन की मौत के बाद उनके राजनीतिक विरासत को लेकर चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। शहाबुद्दीन का चालीसवां समाप्त होने के बाद सभी की नजर पूर्व सांसद के परिवार पर है कि अब वे राजनीति को लेकर क्या कदम उठाएंगे। शहाबुद्दीन की राजनीतिक विरासत का उत्तराधिकारी कौन होगा? उनके इसी फैसले के ऊपर शहाबुद्दीन समर्थकों और बिहार के कई अन्य नेताओं की नजरें टिकी हुईं हैं।
 

बेटे ओसामा शहाब पर सबकी नजरें
सूत्रों की मानें तो दिवंगत नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा शहाब जल्द गृह जिले सिवान समेत बिहार के अन्य जिलों का दौरा शुरू सकते हैं। इनमें गोपालगंज और छपरा जिले की संभावना अधिक है। सूत्रों के मुताबिक, दौरा कर ओसामा राय मशविरा करेंगे, जिसके बाद वे फैसला करेंगे कि आगे क्या करना है।
 

गौर करने वाली बात है कि शहाबुद्दीन के निधन के बाद से कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। लालू परिवार के रवैये के प्रति समर्थकों में नाराजगी है। ऐसे में मौका देखकर शहाबुद्दीन परिवार को अन्य राजनीतिक दलों के नेता पार्टी में शामिल होने की न्यौता दें रहे हैं, लेकिन इस संबंध में परिवार की तरफ से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। ऐसे में सबकी निगाहें शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब और बेटे ओसामा शहाब पर टिकी हुई हैं।
 

 

बिहार में बदलाव की जरूरत
वहीं, कई समर्थकों ने बताया कि शहाबुद्दीन का परिवार जो भी निर्णय लेगा, वो उनके साथ हैं। अब वो समय आ गया है जब बिहार में बड़े बदलाव की जरूरत है। बदलाव के बाद ही बिहार विकास होगा। 

विस्तार

राजद के बाहुबली नेता और सिवान संसदीय क्षेत्र से सांसद रह चुके मोहम्मद शहाबुद्दीन की मौत के बाद उनके राजनीतिक विरासत को लेकर चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। शहाबुद्दीन का चालीसवां समाप्त होने के बाद सभी की नजर पूर्व सांसद के परिवार पर है कि अब वे राजनीति को लेकर क्या कदम उठाएंगे। शहाबुद्दीन की राजनीतिक विरासत का उत्तराधिकारी कौन होगा? उनके इसी फैसले के ऊपर शहाबुद्दीन समर्थकों और बिहार के कई अन्य नेताओं की नजरें टिकी हुईं हैं।

 

बेटे ओसामा शहाब पर सबकी नजरें

सूत्रों की मानें तो दिवंगत नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा शहाब जल्द गृह जिले सिवान समेत बिहार के अन्य जिलों का दौरा शुरू सकते हैं। इनमें गोपालगंज और छपरा जिले की संभावना अधिक है। सूत्रों के मुताबिक, दौरा कर ओसामा राय मशविरा करेंगे, जिसके बाद वे फैसला करेंगे कि आगे क्या करना है।

 

गौर करने वाली बात है कि शहाबुद्दीन के निधन के बाद से कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। लालू परिवार के रवैये के प्रति समर्थकों में नाराजगी है। ऐसे में मौका देखकर शहाबुद्दीन परिवार को अन्य राजनीतिक दलों के नेता पार्टी में शामिल होने की न्यौता दें रहे हैं, लेकिन इस संबंध में परिवार की तरफ से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। ऐसे में सबकी निगाहें शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब और बेटे ओसामा शहाब पर टिकी हुई हैं।

 

 

बिहार में बदलाव की जरूरत

वहीं, कई समर्थकों ने बताया कि शहाबुद्दीन का परिवार जो भी निर्णय लेगा, वो उनके साथ हैं। अब वो समय आ गया है जब बिहार में बड़े बदलाव की जरूरत है। बदलाव के बाद ही बिहार विकास होगा। 

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply