ताजा समाचार बिहार

बिहार में तीसरी बार पुलिसकर्मियों ने शराब नहीं पीने की ली शपथ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना
Updated Tue, 22 Dec 2020 03:00 AM IST

बिहार के डीजीपी एसके सिंघल
– फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

बिहार में तीसरी बार पुलिसकर्मियों ने शराब नहीं पीने और शराब पर पूरी तरह से पाबंदी लगाने की शपथ ली। यह शपथ बिहार के नए डीजीपी एसके सिंघल ने बिहार पुलिस को दिलाई। इस दौरान डीजीपी के साथ सभी पुलिसकर्मियों ने आजीवन शराब नहीं पीने की कसमें खाई।    

सोमवार को बिहार पुलिस ने यह शपथ लिया कि अपने जीवन काल में कभी शराब का सेवन नहीं करूंगा, यदि इस कार्य में मैं लिप्त पाया गया तो कार्रवाई के लिए उत्तरदायी होउंगा।

पुलिसकर्मियों को बताया गया कि शराब का सेवन स्वास्थ्य एवं परिवार के लिए हानिकारक है। वह समाज के लोगों को शराब न पीने के लिए भी जागरूक करेंगे। इस कार्य में समाज के अन्य लोगों की भी मदद लेने की बात कही गई। निर्देशित किया गया कि सूचना तंत्र मजबूत कर शराबबंदी कानून को जिले में सख्ती से लागू कराएं। यह सभी की जिम्मेदारी व जवाबदेही और हमारा कर्तव्य भी है।    

इसके पहले भी कई दफे बिहार के पुलिसकर्मी शराब नहीं पीने की शपथ ले चुके हैं। बावजूद इसके बिहार के पुलिसकर्मियों पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। पुलिस द्वारा शराब पीने, कारोबार में शामिल होने की हर दिन कई शिकायतें मिलती हैं।

शराबबंदी कानून लागू रहने के बाद भी बिहार में शराब का कारोबार धडल्ले से जारी है। इस धंधे में पुलिसकर्मी भी अपरोक्ष रूप से शामिल रहते हैं। लगातार मिल रही शिकायतों के बाद एक बार फिर से सीएम नीतीश ने सभी पुलिस कर्मियों को शराब नहीं पीनें की शपथ लेने को कहा।

बिहार में तीसरी बार पुलिसकर्मियों ने शराब नहीं पीने और शराब पर पूरी तरह से पाबंदी लगाने की शपथ ली। यह शपथ बिहार के नए डीजीपी एसके सिंघल ने बिहार पुलिस को दिलाई। इस दौरान डीजीपी के साथ सभी पुलिसकर्मियों ने आजीवन शराब नहीं पीने की कसमें खाई।    

सोमवार को बिहार पुलिस ने यह शपथ लिया कि अपने जीवन काल में कभी शराब का सेवन नहीं करूंगा, यदि इस कार्य में मैं लिप्त पाया गया तो कार्रवाई के लिए उत्तरदायी होउंगा।

पुलिसकर्मियों को बताया गया कि शराब का सेवन स्वास्थ्य एवं परिवार के लिए हानिकारक है। वह समाज के लोगों को शराब न पीने के लिए भी जागरूक करेंगे। इस कार्य में समाज के अन्य लोगों की भी मदद लेने की बात कही गई। निर्देशित किया गया कि सूचना तंत्र मजबूत कर शराबबंदी कानून को जिले में सख्ती से लागू कराएं। यह सभी की जिम्मेदारी व जवाबदेही और हमारा कर्तव्य भी है।    

इसके पहले भी कई दफे बिहार के पुलिसकर्मी शराब नहीं पीने की शपथ ले चुके हैं। बावजूद इसके बिहार के पुलिसकर्मियों पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। पुलिस द्वारा शराब पीने, कारोबार में शामिल होने की हर दिन कई शिकायतें मिलती हैं।

शराबबंदी कानून लागू रहने के बाद भी बिहार में शराब का कारोबार धडल्ले से जारी है। इस धंधे में पुलिसकर्मी भी अपरोक्ष रूप से शामिल रहते हैं। लगातार मिल रही शिकायतों के बाद एक बार फिर से सीएम नीतीश ने सभी पुलिस कर्मियों को शराब नहीं पीनें की शपथ लेने को कहा।

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: