.wpmm-hide-mobile-menu{display:none}
विज्ञान

Space में वैज्ञानिकों को मिला ये अजूबा, खुल गया बड़ा रहस्य

वॉशिंगटन: नासा (NASA) और यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (ESA) के बीच एक अंतरराष्ट्रीय सहयोग हबल स्पेस टेलीस्कोप ने पृथ्वी से लगभग 13 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर एक सर्पिल आकाशगंगा (Spiral Galaxy) का पता लगाया है. ईएसए ने कहा कि हबल के वाइड फील्ड कैमरा 3 (डब्ल्यूएफसी 3) ने आकाशगंगा एनसीजी 5728 को देखा है, जो काफी सुंदर और चमकदार है.

वैज्ञानिकों ने खोजी स्पाइरल गैलेक्सी

डब्ल्यूएफसी 3 विजबल और इंफ्रारेड लाइट के प्रति बहुत संवेदनशील है और इस तरह एनजीसी 5728 के उन क्षेत्रों को खूबसूरती से कैप्चर किया है जो उन तरंग दैर्ध्य (Wavelength) पर प्रकाश उत्सर्जित करते हैं. हालांकि कई अन्य प्रकार के प्रकाश हैं जो आकाशगंगाएं जैसे- एनजीसी 5728 उत्सर्जित करती हैं, जिन्हें डब्ल्यूएफसी 3 नहीं देख सकता है.

 

क्यों चमकता है एनजीसी 5728?

एनजीसी 5728 भी ऊर्जावान प्रकार की आकाशगंगा है, जिसे सेफर्ट आकाशगंगा के रूप में जाना जाता है. अपने सक्रिय कोर से संचालित, सेफर्ट आकाशगंगाएं, आकाशगंगाओं का एक ऊर्जावान वर्ग है जिन्हें सक्रिय गांगेय नाभिक के रूप में जाना जाता है. ये एजीएन अपने सेंट्रल ब्लैक होल के चारों ओर फेंकी गई गैस और धूल के कारण तेजी से चमकता है.

ईएसए ने कहा कि कई अलग-अलग प्रकार के एजीएन हैं, लेकिन सेफर्ट आकाशगंगाओं को एजीएन के साथ अन्य आकाशगंगाओं से अलग किया जाता है क्योंकि आकाशगंगा खुद साफ तौर पर देखी जाती है. अन्य एजीएन, जैसे क्वासर, इतना विकिरण उत्सर्जित करते हैं कि उन्हें रखने वाली आकाशगंगा का निरीक्षण करना लगभग असंभव है.

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: