ताजा समाचार बिहार

शर्मनाक: सिर मूंडा, उठक-बैठक कराई और जमकर पीटा, बकरी चोरी के आरोप में दीं यातनाएं

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बिहार
Published by: Tanuja Yadav
Updated Tue, 13 Apr 2021 12:59 PM IST

सार

बिहार के कटिहार में बकरी चोरी के आरोप में दो महिलाओं और दो पुरुषों को बंधक बनाकर उनकी पिटाई करने का मामला सामने आया है।

बिहार में बकरी चोरी के आरोप में दो महिला और दो युवकों की पिटाई
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

बिहार के कटिहार में बकरी चोरी के आरोप में पकड़े गए दो महिला और दो युवकों को पीटने का मामला सामने आया है। यही नहीं, दोनों महिलाओं के बाद में बाल मुंडवाए गए और पूरे इलाके में घुमाया। वहीं गांव वालों ने दोनों युवकों से कान पकड़ाकर उठक बैठक भी लगवाई। 

सोशल मीडिया पर जब यह खबर वायरल हुई तब इसका खुलासा हुआ। पटना जिल के कोढ़ा थाना क्षेत्र के उत्तरी सिमरिया पंचायत के कोलासी आदिवासी टोला का बताया जा रहा है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, कोलासी पुलिस चौकी से थोड़ी दूर बकरी चोरी के आरोप में दो महिलाओं और दो युवकों को बंदी बनाया गया। 

ऐसा बताया जा रहा है कि चारों लोगों को अमानवीय यातनाएं दी गई थीं और पुलिस को इस मॉब लिचिंग की घटना की भनक तक नहीं लगी। वहां जुटी भीड़ ने जब अपनी सारी हदें पार कर दीं तो उन चारों को वहां से भगाया गया। घटना के बाद वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। 

इस घटना की जानकारी जब पुलिस के अधिकारियों को मिली तब पुलिस जांच पड़ताल में जुटी। डीएसपी अमरकांत झा ने घटना को काफी दुखद बताया और कहा कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ऐसा बताया जा रहा है कि बकरी चोरी के आरोप में दो महिलाओं और दो पुरुषों को बंधक बनाया गया और सरेआम उनकी पिटाई भी की। 

यही नहीं महिलाओं के सिर के बाल मुंडवाकर उनके सिर पर गाय का गोबर तक डाल दिया गया। कोढा थानाध्यक्ष ने घटना की पुष्टि की और कहा कि पीड़ितों को इलाज के लिए ले जाया गया है और घटना के आरोपियों के खिलाफ जांच जारी है।

विस्तार

बिहार के कटिहार में बकरी चोरी के आरोप में पकड़े गए दो महिला और दो युवकों को पीटने का मामला सामने आया है। यही नहीं, दोनों महिलाओं के बाद में बाल मुंडवाए गए और पूरे इलाके में घुमाया। वहीं गांव वालों ने दोनों युवकों से कान पकड़ाकर उठक बैठक भी लगवाई। 

सोशल मीडिया पर जब यह खबर वायरल हुई तब इसका खुलासा हुआ। पटना जिल के कोढ़ा थाना क्षेत्र के उत्तरी सिमरिया पंचायत के कोलासी आदिवासी टोला का बताया जा रहा है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, कोलासी पुलिस चौकी से थोड़ी दूर बकरी चोरी के आरोप में दो महिलाओं और दो युवकों को बंदी बनाया गया। 

ऐसा बताया जा रहा है कि चारों लोगों को अमानवीय यातनाएं दी गई थीं और पुलिस को इस मॉब लिचिंग की घटना की भनक तक नहीं लगी। वहां जुटी भीड़ ने जब अपनी सारी हदें पार कर दीं तो उन चारों को वहां से भगाया गया। घटना के बाद वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। 

इस घटना की जानकारी जब पुलिस के अधिकारियों को मिली तब पुलिस जांच पड़ताल में जुटी। डीएसपी अमरकांत झा ने घटना को काफी दुखद बताया और कहा कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ऐसा बताया जा रहा है कि बकरी चोरी के आरोप में दो महिलाओं और दो पुरुषों को बंधक बनाया गया और सरेआम उनकी पिटाई भी की। 

यही नहीं महिलाओं के सिर के बाल मुंडवाकर उनके सिर पर गाय का गोबर तक डाल दिया गया। कोढा थानाध्यक्ष ने घटना की पुष्टि की और कहा कि पीड़ितों को इलाज के लिए ले जाया गया है और घटना के आरोपियों के खिलाफ जांच जारी है।

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *