.wpmm-hide-mobile-menu{display:none}
ताजा समाचार बिहार

लोन देने वाले मैनेजर को दिल दे बैठी दो बच्चों की मां, शादी रचाने के लिए पति को शूटर्स से मरवाया

कटिहार. बिहार के कटिहार में पत्नी द्वारा पति की हत्या (Katihar Murder Case) करवाने का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. पुलिस ने हत्या की इस गुत्थी को महज 60 घंटे के अंदर सुलझाते हुए आरोपियों को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल मुफस्सिल थाना क्षेत्र के भट्टा टोला में 20 जून को गोली मारकर ट्रक ड्राइवर धर्मेंद्र रविदास की हत्या कर दी गई थी. पुलिस ने जब इस घटना की जांच की तो बड़ी साजिश का खुलासा हुआ. धर्मेंद्र की हत्या उसकी पत्नी सजली ने अपने प्रेमी राजू कुमार के साथ मिलकर करवा दी थी.

शूटर्स ने दिया था घटना को अंजाम

हत्या के साजिश रचते हुए बंधन बैंक कर्मी और सजली के प्रेमी राजू द्वारा ने सुपारी किलर संजीत पंडित की मदत से इस वारदात को अंजाम दिलवाया गया था. इसके एवज में संजीत को तय रकम भी दी गई थी. पुलिस द्वारा इस मामले का उद्भेदन किया गया. इसकी जानकारी देते हुए कटिहार के आरक्षी अधीक्षक विकास कुमार ने बताया कि हत्या की इस वारादात में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, साथ ही घटना को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किए गए पिस्टल के साथ 8 राउंड गोली भी बरामद किया गया है.

पति की हत्या की ये थी वजह

एसपी ने बताया कि घटना के पीछे की वजह अवैध प्रेम संबंध है. दरअसल मृृतक की पत्नी सजली देवी और बैंक कर्मी राजू कुमार में पिछले कई महीनों से प्रेम संबंध था. इस के अलावा एक और वजह यह भी थी कि बंधन बैंक में रिलेशनशिप मैनेजर के तौर पर काम करने वाले राजू ने ही संजलि के पति धर्मेंद्र रविदास को 90 हजार का लोन भी दिलवाया था. दोनों में ये बात तय हुई कि धर्मेंद्र की हत्या के बाद ये लोन खत्म हो जाएगा और आगे दोनों प्रेमी-प्रेमिका अपनी नई दुनिया बसा लेंगे. हत्या की साजिश रचने वाले सजली देवी दो बच्चे की मां भी है.

60 घंटे में खुलासा

कटिहार में हुई हत्या की घटना को पुलिस ने महज 60 घंटे के अंदर सुलझा कर बड़ी उपलब्धि हासिल की है, वहीं गिरफ्तार सभी आरोपियों ने अपने-अपने गुनाह कबूल लिये हैं. पति की हत्या की आरोपी पत्नी संजलि देवी ने बताया कि वो सीधे तौर पर हत्या में शामिल नहीं है, हालांकि अवैध प्रेम संबंध के सवाल पर उसने चुप्पी साध ली.

Follow Me:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *